बुधवार, 1 अप्रैल 2009

लग्‍न राशि फल – अप्रैल 2009

मेष – जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार बिगडती हुई धन की स्थिति अब थोडी राहत देनेवाली हो जाएगी , वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। घर, गृहस्‍थी, दाम्‍पत्‍य से संबंधित मामलों का तनाव भी 18 अप्रैल के बाद ही ठीक होगा। पिता से संबंधित समस्‍या भी पिछले महीने की तुलना में कम दिखाई पडेगी। आफिशियल मामलों में भी पिछले महीने की तुलना में कुछ राहत मिलेगी। 13 अप्रैल के बाद मानसिक तनाव भी कुछ कम होगा। संतान से संबंधित समस्‍याएं भी 13 अप्रैल के बाद काफी कम हो जाएंगी। इस महीने भाग्‍य और धर्म आदि बातों पर ध्‍यान संकेन्द्रित होगा। खर्च के मुद्दो पर भी ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। स्‍वास्‍थ्‍य के मामले मनोनुकूल बने रहेंगे। जीवनशैली भी सुखद बनी रहेगी। 7अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्‍य भाई बहन बंधु बांधव से संबंधित मामले कुछ कमजोर बने रहेंगे।

वृष - जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार बिगडती हुई स्‍वास्‍थ्‍य की स्थिति कुछ राहत देनेवाली हो जाएगी , वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। किसी प्रकार के झंझट का तनाव भी 18 अप्रैल के बाद ही ठीक होगा। पिता से संबंधित समस्‍या भी पिछले महीने की तुलना में कम दिखाई पडेगी। आफिशियल मामलों में भी पिछले महीने की तुलना में कुछ राहत मिलती रहेगी। 13 अप्रैल के बाद किसी प्रकार की संपत्ति से संबंधित तनाव भी कुछ कम होगा। माता पक्ष का तनाव भी 13 अप्रैल के बाद समाप्‍त दिखाई पडेगा। इस महीने लाभ के मामलों को मजबूत बनाने की दिशा में ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। घर गृहस्‍थी और खर्च के मामले मनोनुकूल बने रहेंगे। 7 अप्रैल से 22 अप्रैल के मध्‍य धन और संतान की स्थिति कुछ कमजोर दिखाई पडेगी।


मिथुन – जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार बिगडती हुई खर्च की स्थिति थोडी राहत देनेवाली हो जाएगी, वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। विदेश यात्रा या बाह्य संदर्भों में आ रही कठिनाई भी 18 अप्रैल के बाद ही दूर होगी। संतान से संबंधित मामलों का कार्य भी 18 अप्रैल के बाद ही दिखाई पडेगा। रूटीन की अस्‍तव्‍यस्‍तता या जीवन शैली से संबंधित मामलों की समस्‍या भी पिछले महीने की तुलना में कम दिखाई पडेगी। 13 अप्रैल के बाद भाई, बहन, बंधु, बांधव की स्थिति में भी सुधार दिखाई पडेगा। इस महीने अपनी घर गृहस्‍थी को मजबूती देने की दिशा में ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। सामाजिक मामलों पर भी ध्‍यान जाएगा। आफिशियल मामलों को भी चुस्‍त दुरूस्‍त बनाने की कोशिश की जाएगी। बिना किसी तरह के झंझट के लाभ के मामले सुखद बने रहेंगे। 7 अप्रैल से 25 अप्रैल के मध्‍य किसी प्रकार की संपत्ति से संबंधित मामले तनाव दे सकते हें , इस समय स्‍वास्‍थ्‍य की समस्‍या भी उपस्थित हो सकती है।


कर्क - जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार किसी प्रकार की संपत्ति के लाभ की बिगडती हुई स्थिति से थोडी राहत मिल जाएगी , वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। घरेलू मामले भी काफी राहत देनेवाले हो जाएंगे और जीवनशैली , रूटीन वगैरह की स्थिति में भी पिछले महीनें की तुलना में काफी सुधार होगा। 13 अप्रैल के बाद धन की स्थिति में भी सुधार होगा। इस महीने धार्मिक कार्यों में भी ध्‍यान बनेगा। किसी झंझट को सुलझा लेने की ओर भी ध्‍यान जाएगा। संतान से संबंधित मामले भी सुखद दिखाई पडेंगे। आफिशियल मामलों की स्थिति भी सुखद बनी रहेगी। 7 अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्‍य भाई , बहन , बंधु , बांधव का कोई तनाव बना रह सकता है।


सिंह - जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार बिगडती हुई आफिशियल मामलों की स्थिति में थोडी राहत मिल सकती है , वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। भाई, बहन, बंधु, बांधव से संबंधित मामलों का तनाव भी 18 अप्रैल के बाद ही ठीक होगा। घरेलू मामलों के झंझट पिछले महीने की तुलना में कम दिखाई पडेंगे। 13 अप्रैल के बाद स्‍वास्‍थ्‍य के मामले भी अच्‍छे बनें रहेगे। इस महीने संतानसे संबंधित मामलों पर ध्‍यान संकेन्द्रित होगा। अपनी जीवनशैली को सुधारने पर भी ध्‍यान बनेगा। हर प्रकार की संपत्ति से संबंधित मामलों के सुखद बने रहने से भाग्‍यशाली बने होने का अहसास होगा। 7 अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्‍य धन लाभ के मामले कुछ कमजोर बने रहेंगे।


कन्‍या - जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार बिगडती हुई धन और भाग्‍य की कमजोर स्थिति में थोडी राहत मिलने लगेगी , वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। पिछले महीने की तुलना में मानसिक तनाव कम बनेगा , संतान पक्ष के मामले भी पिछले महीने की तुलना में कुछ राहत देने वाले बने रहेंगे। झंझट भी कम दिखाई पडेंगे। 13 अप्रैल के बाद खर्च का तनाव भी कम हो जाएगा। इस महीने किसी प्रकार की संपत्ति को मजबूती देने पर ध्‍यान संकेन्द्रित होगा। घर गृहस्‍थी को भी मजबूती देने पर ध्‍यान जाएगा। भाई बहन बंधु बांधव के मामले सुखद बने रहेंगे। जीवनशैली मनोनुकूल बनी रहेगी। 7 अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्‍य स्‍वास्‍थ्‍य की स्थिति कुछ कमजोर बनी रहेगी। वाहन सावधानी से चलाए।

तुला - जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार बिगडती हुई स्‍वास्‍थ्‍य की स्थिति से थोडी राहत मिल जाएगी , वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। जीवन शैली या रूटीन की स्थिति में भी सुधार 18 अप्रैल के बाद ही होगा। किसी प्रकार की संपत्ति से संबंधित मामलों की समस्‍या भी पिछले महीने की तुलना में कम हो जाने से मानसिक तनाव से राहत मिलेगी। संतान पक्ष का तनाव भी पिछले महीने की तुलना में काफी राहत भरा हो जाएगा। पढाई लिखाई के मामलों में भी थोडी राहत मिलेगी। इस महीने भाई बहन बंधु बांधव से संबंधित मामलों की ओर ध्‍यान जाएगा। किन्‍हीं झंझटों को सुलझाने की ओर भी ध्‍यान जाएगा। घर परिवार दाम्‍पत्‍य और आर्थिक मामले मनोनुकूल बने रहेंगे। 7 अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्‍य भाग्‍य के कुछ कमजोर पडने से खर्च का तनाव उपस्थित हो सकता है।


वृश्चिक - जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार बिगडती हुई घर गृहस्‍थी और खर्च की समस्‍याओं से कुछ राहत मिल जाएगी, वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। विदेश यात्रा या अन्‍य बाहरी संपर्कों में आ रही बाधा भी 18 अप्रैल के बाद दूर होगी। भाई बहन बंधु बांधव से संबंधित मामलों की समस्‍या भी पिछले महीने की तुलना में कम दिखाई पडेगी। किसी प्रकार की संपत्ति के मामलों का तनाव भी पिछले महीने की तुलना में कम रहेगा। 13 अप्रैल के बाद पिता के मामलों की कठिनाई भी कम होगी। आफिशियल मामले भी सुधरेंगे। इस महीने धन की स्थिति को मजबूत बनाने में ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। संतान पक्ष के कार्यों को संपन्‍न कराने के लिए भी ध्‍यान बनेगा। स्‍वास्‍थ्‍य के मामले सुखद बने रहेंगे। किसी प्रकार का बडा झंझट नहीं उपस्थित होगा। 7 अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्‍य लाभ से संबंधित मामले कुछ कमजोर बने रहेंगे।


धनु - जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार बिगडती हुई लाभ की स्थिति से अब थोडी राहत मिल जाएगी। किसी प्रकार के झंझट के भी कम होने की संभावना है , वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। धन की स्थिति में भी पिछले महीने की तुलना में थोडी राहत बनी रहेगी। भाई बहन बंधु बांधव से संबंधित मामलों की समस्‍या भी पिछले महीने की तुलना में कम दिखाई पडेगी। 13 अप्रैल के बाद भाग्‍य की स्थिति भी अच्‍छी हो जाएगी। इस महीने शरीर और व्‍यक्तित्‍व को मजबूती देने के कार्यक्रम में ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। हर प्रकार की संपत्ति और स्‍थायित्‍व को मजबूती देने में भी ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। मानसिक तौर पर स्थिति सुखद बनी रहेगी। पढाई लिखाई का वातावरण अच्‍छा बनेगा। खर्च के मामले सुखद बने रहेंगे। बाहरी संदर्भों की स्थिति भी सुखद रहेगी। 7 अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्‍य घर गृहस्‍थी का कुछ तनाव बनेगा। इसी मध्‍य आफिश्सियल मामले भी कुछ तनाव उपस्थित करेंगे।

मकर - जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही आरंभ हुआ मानसिक तनाव अब थोडी राहत देनेवाला बनेगा , वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। संतान पक्ष की समस्‍याएं भी 18 अप्रैल के बाद ही ठीक होंगी। आफिशियल मामलों का तनाव भी 18 अप्रैल के बाद ही ठीक होगा। स्‍वास्‍थ्‍य की स्थिति भी पिछले महीने की तुलना में कम दिखाई पडेगी।आर्थिक मामले भी पिछले माह की तुलना में राहत देनेवाले ही होंगे। 13 अप्रैल के बाद जीवनशैली की अस्‍तव्‍यस्‍तता कम होगी। इस महीने भाई बहन बंधु बांधव के कार्यों में ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। खर्च के मामलों को ठीक करने की भी कोशिश होगी। हर प्रकार की संपत्ति की स्थिति भी सुखद बनी रहेगी। लाभ के मामले भी मनोनुकूल बने रहेंगे। 7 अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्‍य कुछ झंझट दिखाई पड सकते हें , जिनसे भाग्‍य कमजोर महसूस होगा।

कुंभ - जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार दुर्योग के उपस्थित होने से काम में जो गडबडी आयी है , उससे राहत मिलनी आरंभ हो जाएगी , वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। किसी प्रकार की संपत्ति से संबंधित मामलों का तनाव भी 18 अप्रैल के बाद ही ठीक होगा। पिछले महीने की तुलना में स्‍वास्‍थ्‍य की स्थिति राहत देनेवाली बनेगी। खर्च का तनाव भी अब कुछ कम होने लगेगा। 13 अप्रैल के बाद घर गृहस्‍थी के मामलों का तनाव भी कम होगा। इस महीने आर्थिक लाभ के मामलों में ध्‍यान संकेन्‍द्रण भी बनेगा। भाई बहन बंधु बांधव की स्थिति सुखद दिखायी पडेगी। सामाजिक राजनीतिक वातावरण भी सुखद महसूस होगा। आफिशियल मामले भी अच्‍छे दिखाई पडेंगे। 7 अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्‍य जीवनशैली कुछ कमजोर दिखाई पडेगी , संतान पक्ष का तनाव भी उपस्थित दिखाई पडेगा।

मीन - जनवरी के बाद से ही या खासकर 7 मार्च के आसपास से ही लगातार बिगडती हुई भाई बहन बंधु बांधव की स्थिति से जीवनशैली में जो गडबडी आयी है , उससे थोडी राहत मिलने लगेगी , वैसे पूरा सुधार 18 अप्रैल से ही होगा। लाभ की कमी और खर्च के संकट का जो तनाव पिछले माह तक रहा , वह भी अब धीरे धीरे कम होगा। 13 अप्रैल के बाद झंझट भी कम दिखाई पडेंगे। इस महीने अपने स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर जागरूकता बढेगी । आफिशियल मामलों को मजबूत बनाने पर भी ध्‍यान जाएगा। भाग्‍य की स्थिति मजबूत बनी रहेगी । आर्थिक मामले सुखद दिखाई पडेंगे। 7 अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्‍य घरगृहस्‍थी की स्थिति कुछ कमजोर दिखाई पड सकती है। किसी प्रकार की संपत्ति का तनाव भी उपस्थित हो सकता है।


अपने बारे में और अधिक जानकारी के लिए यहांक्लिक करें।

13 टिप्‍पणियां:

डॉ. मनोज मिश्र ने कहा…

अच्छा मेहनत किया है आपने लोंगों की सुविधा के लिए .

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

आदरणीया बहिन संगीता पुरी जी!
गत्यात्मक ज्योतिष पर 12 राशियों का
राशिफल अच्छा लगा।
आपके परिश्रम की भूरि-भूरि सराहना करता हूँ। किन्तु इसके साथ ही यदि यह भी निवेदन कर दिया जाता कि ग्रह-नक्षत्र और भाग्य तो अपना कार्य करेंगे ही।
लेकिन कर्म प्रधान है।
सन्त कवि तुलसी दास जी ने लिखा है-
‘‘कर्म प्रधान विश्व रचि राखा। जो जस करहि सो तस फल चाखा।।’’
अन्तर्राष्ट्रीय मूर्ख दिवस की शुभकामनाओं के साथ- आपका।

ज्ञानदत्त पाण्डेय | Gyandutt Pandey ने कहा…

चलिये अठ्ठारह अप्रेल का इंतजार किया जाये!

मोहन वशिष्‍ठ ने कहा…

सिंह राशि का देखा तो काफी बल्कि 90 प्रतिशत तक ठीक बात है आपकी जो आपने बताया कुछ ऐसा ही घअनाक्रम चल रहा है।

बहुत सही जानकारी के लिए बहुत बहुत धन्‍यवाद

राज भाटिय़ा ने कहा…

बहुत बहुत धन्यवाद, संगीता जी, आप ने बहुत ही मेहनत से इतनी सुंदर जानकारी हम सब को दी.

Mumukshh Ki Rachanain ने कहा…

भविष्य-फल प्रस्तुति का दिन प्रथम अप्रैल ही क्यों चुना,
एक बार तो संदेह जाग्रत हुआ, किन्तु मैं नहीं समझता की कोई ज्योतिषी, जो कि स्वयं लोगों के दुख दूर करने को बेताब रहते हों, वह ऐसा कोई मजाक क्यूं कर करेगा................

हम सभी ब्लॉग-पीडितों के हितार्थ आपने भविष्य फल का प्रकाशन कर अनुग्रहीत ही तो किया है, अब कोई इसे सत्य माने न माने, यह उसकी श्रद्धा, पर सार्थक प्रयास का स्वागत तो किया ही जाना चाहिए.

आशा है प्रत्येक माह की प्रथम तारिख को आप भविष्य में भी आप इसी तरह भविष्य-फल प्रकाशित करती रहेंगी.

चन्द्र मोहन गुप्त

Shefali Pande ने कहा…

जानकारी के लिए धन्यवाद ...

आलोक सिंह ने कहा…

प्रणाम
लग्न राशिफल के लिए धन्यवाद , पर मुझे संशय है अपनी राशि को लेके , कुंडली के अनुसार तुला है परन्तु पाश्चात्य दिनांक २० / ०८ से राशि कन्या है . यहाँ पर मेरी राशि कन्या है या तुला .

Abhishek Mishra ने कहा…

Yeh maah to sakaratmak hi lag raha hai. Aapke liye bhi Mangalmay ho. Shubhkaamnayein.

रूपाली मिश्रा ने कहा…

सारी राशियों का फल एक ही जैसा क्यों है ?

shubhAM mangla ने कहा…

हौसला अफ़जाई के लिए दिल से शुक्रिया. ये नयी post देखियेगा, बात सच्ची और अच्छी लगे तो आवाज़ में आवाज़ मिलाइयेगा..

http://shubhammangla.blogspot.com/2009/04/breaking-news.html

वन्दना अवस्थी दुबे ने कहा…

बहुत दिन हुए आप मेरे ब्लौग पर नहीं आईं.क्यों? आप की निरंतर सलाह राय चाहिए मुझे.

Prem Farrukhabadi ने कहा…

jaan kaari kaafi laabhprad hai. badhaai.