मंगलवार, 1 दिसंबर 2009

आखिरकार राशिफल लिखने के लिए मिला एक सही आधार .. इसपर पाठकों के विचार आमंत्रित हैं !!

समय समय पर कई पत्र पत्रिकाओं के द्वारा मुझे राशिफल लिखने के लिए आमंत्रित किया जाता रहा है , पर मैं कभी नहीं भ्‍ोज पायी , इसका कारण यह था कि ‘गत्‍यात्‍मक ज्‍योतिष’ राशि के आधार पर नहीं , लग्‍न सापेक्ष ही सारे भावों को मानता आया है , लग्‍न पर आधारित भविष्‍यवाणियां करता आया है , इसलिए हमें राशिफल की विश्‍वसनीयता पर हमेशा ही संदेह रहा। इस कारण कुछ दिन पूर्व मैंने अपने ब्‍लॉग पर भी हर महीने 'लग्‍न राशिफल' का ही प्रकाशन किया , ताकि भविष्‍यवाणियां विश्‍वास किए जाने योग्‍य रह सके। पर पंडितों और ज्‍योतिषियों के द्वारा राशि को अधिक महत्‍व दिए जाने से पाठकों को अपने राशि की तो जानकारी होती है , पर लग्‍न की नहीं । इस कारण हमारे द्वारा लिखा गया 'लग्‍न राशिफल' बहुत सटीक तो है , पर सबों के लिए उपयोगी नहीं हो पाता है।

 इसको ध्‍यान में रखते हुए काफी दिनों से राशिफल के लिए एक सही आधार को ढूंढने में चिंतन चल रहा था। उसमें पिछले दिनो छोटी सी सफलता मिली है , जिसके आधार पर इस महीने के बारहो राशि का एक एक पंक्तियों का राशिफल पोस्‍ट कर रही हूं। जैसा कि राशिफल की अवैज्ञानिकता के बारे में संशय रखते हुए  इसमें किसी बात को घूमाफिराकर ही कहे जाने का आक्षेप लगाते हैं , इसमें वैसा कुछ भी नहीं कहा गया है। पाठकों से निवेदन है कि अपनी चंद्र राशि के अनुरूप इस महीने अपनी शुभ और अशुभ तिथियों को जांचे और महीने के अंत तक सिर्फ अपनी प्रतिक्रिया दें  कि अगले महीने इस तरह की राशिफल को प्रकाशित की जानी चाहिए या नहीं। पर इसे अपनी जन्‍मतिथि वाली राशि से देखने की भूल न करे, अपनी चंद्र राशि की जानकारी आप कुंडली बनाने वाली किसी भी सॉफ्टवेयर से प्राप्‍त कर सकते हैं। आपके लिए दिसम्‍बर 2009 का राशिफल ये रहा .........

मेष ... आपके मन के लिहाज से 10 और 11 दिसम्‍बर बहुत ही शुभ तथा 14 , 15 और 16 दिसम्‍बर कुछ अशुभ रहेंगे।

वृष ... आपके मन के लिहाज से 12 और 13 दिसम्‍बर सामान्‍य तौर पर शुभ और 17 तथा 18 दिसम्‍बर कुछ अशुभ ही रहेंगे।

मिथुन ... आपके मन के लिहाज से 14 , 15 और 16 दिसम्‍बर बहुत शुभ तथा 19 , 20 और 21 दिसम्‍बर कुछ अशुभ रहेंगे।

कर्क ... आपके मन के लिहाज से 17 और 18 दिसम्‍बर बहुत ही शुभ तथा 22 और 23 दिसम्‍बर बहुत ही अशुभ रहेंगे।

सिंह ... आपके मन के लिहाज से 19 , 20 और 21 दिसम्‍बर बहुत ही शुभ तथा 24 , 25 और 26 दिसम्‍बर सामान्‍य तौर पर अशुभ रहेंगे।

कन्‍या ... आपके मन के लिहाज से 22 और 23 दिसम्‍बर सामान्‍य तौर पर शुभ तथा  26 , 27 और 28 दिसम्‍बर कुछ उपलब्धि के बावजूद अशुभ रहेंगे।

तुला ... आपके मन के लिहाज से 24 , 25 और 26 दिसम्‍बर कुछ झंझट के बावजूद शुभ तथा 1 , 2 , 3, 29 और 30 दिसम्‍बर अधिक अशुभ भी रह सकते हैं।

वृश्चिक ... आपके मन के लिहाज से 26, 27 और 28 दिसम्‍बर बुहत शुभ तथा 3 , 4, 5 और 30 दिसम्‍बर अशुभ होने के बावजूद बहुत चिंताजनक नहीं रहेंगे।

धनु ... आपके मन के लिहाज से 29 , 30 , 1 , 2 और 3 बहुत ही शुभ तथा 5 , 6 और 7 दिसम्‍बर बहुत ही अशुभ रहेंगे।

मकर ... आपके मन के लिहाज से 31 , 3 , 4 , और 5 दिसम्‍बर सामान्‍य तौर पर शुभ तथा 7 , 8 और 9 सामान्‍य ढंग के अशुभ रहेंगे।

कुंभ ... आपके मन के लिहाज से 5 , 6 और 7 दिसम्‍बर बहुत ही शुभ तथा 10 और 11 दिसम्‍बर बहुत ही अशुभ रहेंगे।

मीन ... आपके लिए 7 , 8 और 9 दिसम्‍बर सामान्‍य तौर पर शुभ तथा 12 और 13 दिसम्‍बर कुछ अशुभ रहेंगे।







आप सभी पाठकों से अनुरोध है कि इस प्रयोग में मेरी मदद करें , माह के अंत में अपने अनुभव प्रतिक्रिया स्‍वरूप लिख भेजें , ताकि अगले महीने से और प्रभावी ढंग से राशिफल को तैयार किया जा सके।

19 टिप्‍पणियां:

aamin ने कहा…

बहुत अच्छा
थैंक्स

रंजना [रंजू भाटिया] ने कहा…

शुक्रिया जी देखते हैं क्या होता है आभार इस जानकारी के लिए

पी.सी.गोदियाल ने कहा…

बहुत बढ़िया और सराहनीय प्रयास संगीता जी , इनफैकट, मैं आपको और वत्स साहब को यह सजेशन बहुत पहले देना चाहता था मगर कुछ सोच चुप रह गया !

Gagan Sharma, Kuchh Alag sa ने कहा…

चलिये देखा जाय।

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

जानकारी देने के लिए धन्यवाद!

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi ने कहा…

दुनिया भर के लोगों को केवल 12 भागों में बांट कर भविष्यवाणी करने पर उस की वैज्ञानिकता की कल्पना कर पाना ही संभव नहीं है। फिर भी ....
दिल के खुश रखने को ग़ालिब ख़याल अच्छा है।

Udan Tashtari ने कहा…

आभार!!

vinay ने कहा…

मुझे अपनी चन्द्र राशी ज्ञात नहीं,अपनी चन्द्र राशी देख कर बताऊँगा,वैसे आपका प्रयास अच्छा है ।

संगीता पुरी ने कहा…

द्विवेदी जी .. मैं पहले ही लिख चुकी हूं कि कृपया पूर्वाग्रह से ग्रस्‍त होकर टिप्‍पणी न करें .. आप अपनी चंद्र राशि के आधार पर अपना शुभ और अशुभ तिथियां देखें .. उस दिन की घटनाओं से मिलाएं .. और फिर मेरी आलोचना करें .. मुझे कोई आपत्ति नहीं होगी .. पर मेरी बात को बिना समझे आपकी यह आपत्ति उचित नहीं !!

प्रवीण त्रिवेदी ╬ PRAVEEN TRIVEDI ने कहा…

आपका प्रयास अच्छा है!!!!!
हम आपके साथ हैं जी!

दिव्य नर्मदा ने कहा…

संगीता जी! आपका है शत-शत आभार.
ज्योतिष को परखें, दिया हमें एक आधार.
'सलिल' परख तिथियाँ सभी, सकें सत्य को जान.
कल क्या हो इसका लगे, तनिक पूर्व अनुमान.
ज्योतिष का मन भा रहा, मुझे नया आयाम.
धन्यवाद शत आपको, मिले कीर्ति यश नाम.

वन्दना ने कहा…

bahut hi badhiya prayas hai.........badhayi.

राज भाटिय़ा ने कहा…

धन्यवाद जी, इस अच्छी जान्कारी के लिये

राकेश जैन ने कहा…

thanks, Hum zarur apko suchit karene, humari chandra Rashi Vrishchik hai.

ACHARYA RAMESH SACHDEVA ने कहा…

Yes, This is the way to be true towards own words.
Then what difference in Lagan Kundli and Chander Kundli

संगीता पुरी ने कहा…

रमेश सचदेवा जी धन्‍यवाद ..लग्‍न और राशि को समझने के लिए
इस लिंकपर जाएं !!

Shastri JC Philip ने कहा…

निरीक्षण, परीक्षण, निष्कर्ष आदि तार्किकता की पहचान है. आप इस दिशा में जो कुछ कर रही हैं उसका अनुमोदन करता हूँ क्योंकि कई लोग तार्किक आधार से बचने की कोशिश करते हैं.

आपको प्रयोग का फल निकलने में समय लगेगा, लेकिन सबर का फल मीठा होगा.

सस्नेह -- शास्त्री

हिन्दी ही हिन्दुस्तान को एक सूत्र में पिरो सकती है
http://www.Sarathi.info

रंजन ने कहा…

मेरी राशी क्या है कैसे पता चलेगी? जन्म कुण्डली नहीं है..

Pandit Kishore Ji ने कहा…

bahut sahi jaankaari dene ka prayaas kiya hain sangeeta ji aapne..
vaise bhi chandra rashi se fal batane me kai or bhi pareshaniya hoti hain jabki lagan ke aadhar par fal kaafi had tak sahi hota hain aapke is prayaas ke liye bahut bahut dhanyavaad va shubhkaamnaaye