सोमवार, 17 अक्तूबर 2011

भारतीय टीम को जीत के लिए बहुत बहुत शुभकामनाएं !!!!

कुछ व्‍यस्‍तता की वजह से पिछले दो वर्षों से मैं भारत के द्वारा खेले जाने वाले किसी भी मैच का पूर्वानुमान करते हुए कोई लेख नहीं लिख पा रही थी। इंगलैंड टीम के खिलाफ खेले गए टैस्‍ट मैचों के बारे में भी मैं अपने ब्‍लॉग पर कोई विश्‍लेषण नहीं कर सकी थी , पर उसके बाद इन दोनो देशों के मध्‍य खेले जानेवाले एक दिवसीय मैच के पहले दिन ही पूरी सीरिज के बारे में पूर्वानुमान लगाते हुए मैने लिखा था कि एक दिवसीय मैचों में भी भारतीय क्रिकेट टीम का संघर्ष दिखता है !! फुर्सत मिलने पर उसके बाद के दो मैचों में भी मैने भारतीय टीम के कमजोर बने रहने की ही आशंका जतायी थी।

पर 14 अक्‍तूबर को इंग्लैंड के खिलाफ खेले जानेवाले पहले एकदिवसीय मैच के बारे में जानकारी मुझे कुछ देर से हुई और इसके बारे में भी पोस्‍ट नहीं लिख सकी। यह दिन भारतीय क्रिकेट टीम के कप्‍तान महेन्‍द्र सिंह धोनी के नाम रहा , इंग्लैंड के साथ उप्पल स्थित राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में धोनी ने 24वां रन बनाने के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 10 हजार रन पूरे किए। भारतीय गेंदबाजों ने सीरीज के पहले ही मैच में अंग्रेजों की धज्जियां उड़ा दी। टीम इंडिया से जीत के लिए मिले 301 रन का लक्ष्य हासिल करने मैदान में उतरी इंग्लिश टीम 174 रन पर ही ढेर हो गई।

आज भारत और इंगलैंड के मध्‍य दूसरा एकदिवसीय मैच दिल्‍ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में भारतीय समयानुसार दोपहर ढाई बजे खेला जाएगा। ग्रहों के हिसाब से इस मैच में भारत की स्थिति बहुत ही मजबूत दिखती है , हालांकि पहली पारी इंगलैंड के पक्ष में भी रह सकती है और पहली पारी के अंत में भारत पर दबाब बढ सकता है। पर उसके बाद भारत की स्थिति क्रमश: मजबूत होगी और अंत बढिया रहेगा। खासकर शाम के 7 बजे से 9 बजे तक ग्रहों की स्थिति इंगलैंड की टीम के पक्ष में नहीं रहेगी , जिसका फायदा भारतीय क्रिकेटरों को मिलेगा और इस तरह इस मैच में भारत के जीत की ही संभावना दिखती है। भारतीय टीम को जीत के लिए बहुत बहुत शुभकामनाएं !!!!

4 टिप्‍पणियां:

अभिषेक मिश्र ने कहा…

इंग्लैण्ड दौरे के बाद अब भारत दौरे पर भी, और कहीं हो - न - हो आपके पूर्वानुमानों में तो निरंतरता दिख ही रही है.

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल मंगलवार के चर्चा मंच की जी रही है!
यदि किसी रचनाधर्मी की पोस्ट या उसके लिंक की चर्चा कहीं पर की जा रही होती है, तो उस पत्रिका के व्यवस्थापक का यह कर्तव्य होता है कि वो उसको इस बारे में सूचित कर दे। आपको यह सूचना केवल इसी उद्देश्य से दी जा रही है! अधिक से अधिक लोग आपके ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

डॉ. मनोज मिश्र ने कहा…

आप सही है,बहुत बधाई,टीम जीत गयी.

निर्मल गुप्त ने कहा…

आपकी भविष्यवाणी हमेशा सही होती हैं -बधाई .एक जिज्ञासा है कि जीवन में जो कुछ घटित होता है क्या सब कुछ पूर्वनिर्धारित होता है ?