शुक्रवार, 1 मई 2009

लग्‍न राशिफल - मई 2009

मेष – जनवरी से ही पिता से संबंधित कोई समस्‍या चल रही हो तो इस महीने खासकर 20 मई से सुधार दिखाई पडेगा। 20 मई के बाद नौकरी में परिवर्तन या स्‍थानांतरण की भी संभावना बनेगी। जनवरी के बाद शुरू होनेवाली अन्‍य कोई समस्‍या भी हो तो उसमें सुधार दिखाई पडेगा। 17 मई से धार्मिक क्रियाकलापों में या उसके अध्‍ययन मनन में रूचि बढेगी। धार्मिक कार्यों में खर्च भी हो सकता है। बाह्य संदर्भों को सुधारने की ओर भी ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। विदेश यात्रा के योग भी बन सकते हैं। इस महीने कोष में बढोत्‍तरी होने की भी संभावना है। घर गृहस्‍थी की स्थिति को मजबूत बनाने के भी प्रयास किए जाएंगे। घरेलू मामलों की प्रतिष्‍ठा में वृद्धि होने की संभावना है। प्रेम संबंध भी मजबूत होंगे। पर भाई बहन से संबंधित किसी कार्यक्रम में 7 मई के बाद समस्‍या आ सकती है , जो दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगी। वैसे पूरे महीने उनसे संबंधित या अन्‍य किसी प्रकार का झंझट बढ सकता है। पर स्‍वास्‍थ्‍य की स्थिति सुखद बनी रहेगी। जीवनशैली के सुव्‍यवस्थित और मनोनुकूल बने होने से काफी राहत महसूस होगी।

वृष – 20 मई के बाद किसी संयोग के बनने से कोई काम बन सकता है। धार्मिक क्रियाकलापों में या उसके अध्‍ययन मनन में रूचि बढेगी। जनवरी से ही पिता से संबंधित कोई समस्‍या चल रही हो तो इस महीने खासकर 20 मई से सुधार दिखाई पडेगा। 20 मई के बाद जाब परिवर्तन या स्‍थानांतरण की भी संभावना बनेगी। जनवरी के बाद शुरू होनेवाली अन्‍य कोई समस्‍या भी हो तो उसमें सुधार दिखाई पडेगा। 17 मई के बाद अपने रूटीन या जीवनशैली को चुस्‍त दुरूस्‍त बनाने का प्रयास किया जाएगा , उसमें सफलता मिलने से लाभ का माहौल अच्‍छा बना रहेगा। अपने स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान देकर शरीर और व्‍यक्तित्‍व को मजबूत बनाने के प्रयास में सफलता मिलेगी। हर प्रकार के झंझट को दूर करने के कार्यक्रम चलते ही रहेंगे। 7 मई के बाद धन के मामलों की कोई समस्‍या आ सकती है , मानसिक तनाव बढ जाएगा , संतान पक्ष की भी कोई समस्‍या उपस्थित हो सकती है , जो दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगी। पर घर गृ‍हस्‍थी का माहौल सुखद होने से राहत मिलती रहेगी। प्रेम संबंध सुखद बने रहेगे। खर्च का अधिक दवाब नहीं बनेगा। बाहरी संदर्भों का सुख भी प्राप्‍त होता रहेगा।

मिथुन – जनवरी से ही बिगडी हुई जीवनशैली और रूटीन को सुधारने की दिशा में किए गए प्रयास में 20 मई के बाद कुछ सफलता मिल सकती है। संयोग के बनने से किसी प्रकार का काम बन सकता है। धार्मिक क्रियाकलापों में या उसके अध्‍ययन मनन में रूचि बढेगी। 17 मई से घर गृहस्‍थी के मामलों में भी ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। घर गृहस्‍थी के मामलों में भी प्रतिष्‍ठा की बढोत्‍तरी होगी। 20 मई के बाद नौकरी में परिवर्तन या स्‍थानांतरण की भी संभावना बनेगी। अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई या अन्‍य किसी तरह के कार्यक्रम में व्‍यस्‍तता बनी रहेगी। परीक्षा परिणाम मनोनुकूल मिलेंगे। विदेशयात्रा का योग भी बनता है। 7 मई के बाद स्‍वास्‍थ्‍य की कोई समस्‍या आ सकती है , आत्‍मविश्‍वास कम हो सकता है , किसी प्रकार की समस्‍या के उपस्थित होने से छोटी या बडी किसी प्रकार की संपत्ति के सुख में कमी दिखाई पड सकती है , जो दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगी। पर प्रभाव के मामले अच्‍छे बने रहेंगे और लाभ प्राप्ति की स्थिति सुखद बनी रहेगी।


कर्क – जनवरी से ही आरंभ हुई घर गृहस्‍थी के मामलों की समस्‍या इस महीने 20 मई से सुधरने लगेंगी। जीवनशैली की अस्‍तव्‍यस्‍तता को दूर करने की दिशा में भी काम किए जाएंगे। चार महीने से बिगडी रूटीन की स्थिति में अब सुधार हो पाएगा। प्रेम संबंधों की बिगडी हुई स्थिति में भी सुधार दिखाई पडेगा। 17 मई के बाद धार्मिक क्रियाकलापों में या उसके अध्‍ययन मनन में रूचि बढेगी। किसी प्रकार के झंझट हो तो वे भी सुलझेंगे। हर प्रकार की छोटी बडी संपत्ति की स्थिति काफी मजबूत दिखाई पडेगी। किसी नई वस्‍तु के खरीदे जाने का योग भी बन रहा है ।लाभ की स्थिति भी अच्‍छी दिखाई पडेगी। भाई बहन बंधु बांधव से संबंधित कार्यों में 7 मई के बाद अनिश्चितता का वातावरण तैयार होगा, जो दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगा। उक्‍त मुद्दे पर खर्च का तनाव भी बढ सकता है। पर पद प्रतिष्‍ठा का वातावरण अच्‍छा रहेगा। पिता के मामलों की स्थिति सुखद रहेगी।


सिंह –जनवरी से आरंभ हुए जीवनशैली या रूटीन की अस्‍तव्‍यस्‍तता को दूर कर उन्‍हें मजबूत बनाने के कार्यक्रम 20 मई से बनने लगेंगे। घर गृहस्‍थी के मामलों की समस्‍या सुधरने लगेंगी। प्रेम संबंधों की बिगडी हुई स्थिति में भी सुधार दिखाई पडेगा। अन्‍य प्रकार के झंझट भी दूर होते महसूस होंगे। 17 मई से अपनी या संतान की पढाई लिखाई या अन्‍य मामलों के कार्यक्रमों पर बहुत अधिक ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। उनके जीवन को सुधारने के लिए पुरजोर कोशिश की जाएगी। अपना रूटीन भी सुव्‍यवस्थित बना रहेगा। नौकरी में परिवर्तन या स्‍थानांतरण की संभावना बन सकती है। भाई बहन बंधु बांधवों की काफी मजबूत स्थिति बनेगी। धन और लाभ के मामले 7 मई से कुछ कमजोर दिखलाई पड सकते हैं, जो दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेंगे। अचानक कोष की कमी महसूस होगी। पर भाग्‍य की स्थिति के मजबूत ही दिखाई पडने से राहत महसूस होती रहेगी। हर प्रकार की छोटी बडी संपत्ति का सुख प्राप्‍त होते रहने से सुख शांति का अहसास होता रहेगा।

कन्‍या – जनवरी से चली आ रही अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई या किसी अन्‍य समस्‍या में 20 मई के बाद कुछ सुधार दिखाई पडेगा। किसी अन्‍य प्रकार के झंझट भी समाप्ति की दिशा में जाएंगे। 17 मई के बाद छोटी या बडी किसी प्रकार की संपत्ति के लिए ध्‍यान संकेन्‍द्रण बढ जाएगा। घर गृहस्‍थी को मजबूती देने के कार्यक्रम बनाए जाएंगे। पारिवारिक प्रतिष्‍ठा में बढोत्‍तरी होगी। प्रेम संबंधों में प्रगाढता आएगी। धन और भाग्‍य की स्थिति बहुत मजबूत दिखाई पडेगी। कोष की बढोत्‍तरी होने की संभावना है। किन्‍तु 7 मई से ही स्‍वास्‍थ्‍य में कुछ गडबडी दिखाई पडेगी , कैरियर में रूकावट दिखाई पड सकती है , जो दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगी। आफिशियल मामले तनावपूर्ण बन सकते हें। पिता से संबंधों में गडबडी आ सकती है। प्रतिष्‍ठा पर भी आंच आने की संभावना रहेगी। किन्‍तु भाई , बहन , बंधु , बांधव और अन्‍य सहयोगियों के साथ देने से जीवन अच्‍छा महसूस होगा।

तुला – जनवरी से चली आ रही किसी प्रकार की छोटी या बडी संपत्ति की समस्‍या में 20 मई के बाद कुछ सुधार दिखाई पडेगा। अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई या किसी अन्‍य समस्‍या में भी सुधार दिखाई पडेगा। 17 मई के बाद भाई बहन बंधु बांधव से संबंधित कार्यक्रम में व्‍यस्‍तता हो सकती है। प्रभाव में वृद्धि होने से झंझटों के भी हल होने की संभावना है। स्‍वास्‍थ्‍य की स्थिति बहुत मजबूत दिखाई पडेगी। आत्‍मविश्‍वास बढा हुआ होगा। अपने रूटीन को सुव्‍यवस्थित बनाने में ध्‍यान संकेन्‍द्रण बढेगा। 7 मई के बाद दुर्योग से कोई काम बिगडेंगे । खर्च का तनाव उपस्थित होगा , जो दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगा। बाहरी संदर्भों की स्थिति बिगडेगी। किन्‍तु धन की स्थिति अच्‍छी बने रहने से राहत मिलती रहेगी। पारिवारिक एवं घरेलू जीवन मनोनुकूल बना रहेगा। प्रेम संबंधों की स्थिति सुखद बनी रहेगी।


वृश्चिक – जनवरी से चला आ रहा भाई , बहन , बंधु , बांधव से संबंधित तनाव 20 मई के बाद समाप्‍त होने के कगार पर रहेगा। किसी प्रकार की संपत्ति के सुख में आ रही बाधा भी समाप्‍त होगी। मातृ पक्ष के सुख में भी बढोत्‍तरी होने की संभावना है। 17 मई के बाद धन की स्थिति को मजूबत बनाने में भरपूर ध्‍यान संकेन्‍द्रण बनेगा। कोष की बढोत्‍तरी भी होगी। अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई या अन्‍य मामलों को सुधारने के लिए भी कार्यक्रम बनेंगे। घर गृहस्‍थी की स्थिति बहुत ही मजबूत होगी। पारिवारिक मामलों की प्रतिष्‍ठा में भी बढोत्‍तरी की संभावना है। बाह्य संदर्भ बहुत मजबूत दिखाई पडेंगे। बडे बडे खर्च होने की संभावना भी है। लेकिन 7 मई के बाद से ही लाभ की स्थिति कुछ कमजोर दिखाई पड सकती है। जीवनशैली कमजोर महसूस होगा। रूटीन अस्‍तव्‍यस्‍त बना रहेगा , जो दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगी। पर स्‍वास्‍थ्‍य की मजबूत स्थिति थोडी राहत देनेवाली बनी रहेगी। प्रभाव के बने रहने से किसी प्रकार के झंझट समाप्‍त होंगे।


धनु – जनवरी से धन कोष की कमजोर हो रही स्थिति से 20 मई के बाद थोडी राहत मिल जाएगी। भाई , बहन , बंधु , बांधव की समस्‍या से भी अब कुछ छुटकारा मिल जाएगा। अपने स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में जागरूकता बढेगी। अपने व्‍यक्तित्‍व की कमजोरियों को भी दूर करने की कोशिश की जाएगी। छोटी या बडी किसी प्रकार की संपत्ति को मजबूत बनाने की दिशा में भी ध्‍यान संकेन्द्रित होगा , ताकि सुख शांति प्राप्‍त हो सके। किसी नए सामान के खरीदे जाने का योग बनता है। लाभ और प्रभाव की स्थिति बहुत ही मजबूत दिखाई पडेगी। 7 मई से घर गृहस्‍थी का वातावरण थोडा गडबड हो सकता है। प्रेम संबंधों में भी गडबडी आएगी। कैरियर के मामलों की भी समस्‍या उपस्थित होगी। पद प्रतिष्‍ठा का वातावरण भी कमजोर पडेगा। ये सब मामले दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगी। पर संतान से संबंधित मामले सुखद बने रहेंगे। खर्च की स्थिति भी मजबूत बनी रहेगी। बाह्य संदर्भ भी सुखद बने रहेंगे।


मकर – जनवरी से उपस्थित हुई स्‍वास्‍थ्‍य की समस्‍या 20 मई के बाद सुधार का क्रम ले लेंगी। धन कोष की कमजोर हुई स्थिति से भी थोडी राहत मिल जाएगी। आत्‍मविश्‍वास बढने की उम्‍मीद रहेगी। 17 मई के बाद भाई , बहन , बंधु बांधव के कार्यों में व्‍यस्‍तता बढेगी। खर्च को नियोजित करने के कार्यक्रम बनाए जाएंगे। बाहरी संबंधों का सुख मिलेगा। विदेश यात्रा का योग बन सकता है। अपने या संतान पक्ष के बुद्धि ज्ञान या अन्‍य मामलों की स्थिति सुखद दिखाई पडेगी। जाब परिवर्तन या स्‍थानांतरण की भी संभावना बनती है। सामाजिक राजनीतिक स्थिति काफी मजबूत बनेगी। किन्‍तु 7 मई के बाद संयोग के न बनने से किसी काम में बाधा आ सकती है। प्रभाव की कमजोर स्थिति से झंझटो को दूर कर पाने में कठिनाई आएगी। ये समस्‍याएं दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगी। पर हर प्रकार की छोटी बडी संपत्ति से संबंधित मामलों के सुखद बने होने से सुख शांति का अहसास होता रहेगा। लाभ का वातावरण भी सुखद बना रहेगा।

कुंभ – जनवरी से उपस्थित हुई खर्च की कमजोर स्थिति के कारण जो कठिनाई बनी हुई थी , 20 मई के बाद उसके दूर होने की संभावना है। स्‍वास्‍थ्‍य की कमजोरी भी दूर होती दिखाई देगी। आत्‍मविश्‍वास में वृद्धि होने की संभावना है। 17 मई के बाद धन लाभ के लिए ध्‍यान पूरा संकेन्द्रित रहेगा। कोष की बढोत्‍तरी की भी संभावना रहेगी। हर प्रकार की छोटी बडी संपत्ति की स्थिति मजबूत दिखाई पडेगी। भाग्‍य पक्ष में बना रहेगा । संयोग से काम बनने की उम्‍मीद है। 7 मार्च के बाद ही अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई या अन्‍य समस्‍याओं के उपस्थित होने से मानसिक तनाव बढेगा। जीवनशैली गडबड रहेगी। रूटीन अस्‍तव्‍यस्‍त होगा , जो दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगी। पर भाई , बहन , बंधु , बांधव और पिता का सुख बने रहने से राहत मिलती रहेगी। कैरियर का वातावरण अच्‍छा दिखाई पडेगा। सामाजिक प्रतिष्‍ठा की स्थिति भी अच्‍छी बनी रहेगी।


मीन – जनवरी से उपस्थित हुई लाभ और खर्च की समस्‍या 20 मई के बाद काफी राहत देनेवाली हो जाएगी। बाहरी संदर्भों की परेशानी भी दूर होगी। 17 मई के बाद अपने स्‍वास्‍थ्‍य के प्रति जागरूकता बढेगी। पद प्रतिष्‍ठा के वातावरण में कुछ परिवर्तन का योग है। इससे आत्‍मविश्‍वास में बढोत्‍तरी होने की संभावना है। भाई , बहन , बंधु , बांधव की स्थिति में बहुत अधिक मजबूती की संभावना बन रही है। इस महीने जीवनशैली को मजबूत बनाने के लिए रूटीन को भी सुव्‍यवस्थित किया जाएगा। 7 मई के बाद घर गृहस्‍थी के वातावरण में कुछ कमजोरी आएगी। पति या पत्‍नी के स्‍वास्‍थ्‍य में भी गडबडी हो सकती है। प्रेम संबंधों में भी गडबडी आएगी। ये समस्‍याएं दिन प्रतिदिन गंभीर होते हुए 18 मई तक तनाव का कारण बनेगी। छोटी या बडी किसी प्रकार की संपत्ति के सुख में बाधा पहुंचेगी , जिससे सुख शांति की कमी महसूस होगी। पर भाग्‍य की स्थिति के सामान्‍यतया सुखद बने रहने से राहत मिलती रहेगी। धन की स्थिति भी अच्‍छी बनी रहेगी।

गुरुवार, 30 अप्रैल 2009

पाठक मेरे लग्‍न रा‍शिफल को क्‍यों गंभीरता से नहीं पढते हैं ?????

कैसा अंतर्विरोध है कि जिस ज्‍योतिष को लोग अंधविश्‍वास मानते हैं , उसी ज्‍योतिष की एक मामूली राशिफल पढने के लिए आधी आबादी बेचैन भी रहती है , दुनिया भर के पत्र पत्रिकाओं में राशिफल का प्रकाशन और मेरे चिट्ठे पर सर्च इंजिन से ‘राशिफल’ ढूंढते हुए इतने सारे पाठकों का आना कम से कम इसकी पुष्टि तो अवश्‍य करता है। परंतु बात यहीं पर ही समाप्‍त नहीं होती , राशिफल पढने के बाद अधिकांश लोग फिर इसकी बातों को हंसी मजाक में ही लेते हैं। दुनिया भर के लोगों की इस मानसिकता का कोई अर्थ लगा पाना तो सचमुच बडा मुश्किल है। दुनिया भर के लोगों को 12 भाग में विभाजित कर करोडो लोगों के लिए एक विशेष समयांतराल में एक जैसा भविष्‍यफल का लिखा जाना तो संदेह उत्‍पन्‍न करने के लिए काफी है ही , दूसरी ओर विभिन्‍न पत्रिकाओं में विभिन्‍न पंडितों द्वारा एक ही राशिफल के लोगों के लिए अलग अलग गणना से ही लोगों का राशिफल से विश्‍वास उठ जाता है।

चंद्र या सूर्य राशिफल पर अधारित भविष्‍यवाणियों पर मेरा खुद भी विश्‍वास नहीं , इसलिए मैने अपने पाठकों के लिए ‘लग्‍न राशिफल’ की शुरूआत की थी , इसे शुरू करने से पहले मैने इसकी वैज्ञानिकता के पक्ष में कुछ तर्क भी इस आलेखदिए थे। इस भविष्‍यफल पर बिल्‍कुल संदेह नहीं किया जा सकता , पर अलग अलग लोगों के लिए इसके स्‍तर में अंतर होता है। इस लग्‍न राशिफल की चर्चा विभिन्‍न ग्रहों की गत्‍यात्‍मक शक्ति के आधार पर की जाती है , वे ग्रह सभी लोगों पर प्रभाव डालते हैं , पर विभिन्‍न लग्‍नवालों के लिए संदर्भों में भिन्‍नता होती है। इसलिए एक नजर देखने पर विभिन्‍न लग्‍नवालों के लिए लिखी गयी मेरी भविष्‍यवाणियां एक जैसी लगती है , पिछले महीने इस बात पर मुझे एक टिप्‍पणी भी मिली थी। विभिन्‍न लग्‍नवालों के लिए लिखे जानेवाले इस लग्‍न राशिफल को सटीक बनाने के लिए मुझे आठ दस घंटे देने पडते हैं , पर यह दुखद है कि पाठक इसका कोई उपयोग नहीं करते । जिन पाठकों से मेरी बातचीत होती है , उनसे इस विषय पर बात करने पर तो मुझे ऐसा ही लगता है।


हर महीने की पहली तारीख को मै उस महीने का लग्‍न राशिफल प्रेषित करती हूं। सभी पाठको से मेरा अनुरोध है कि वे मेरे द्वारा प्रेषित लग्‍न राशिफल को अवश्‍य पढें , यदि आप अपने लग्‍न से देखें , तो इसे आपके जीवन से 80 प्रतिशत तक मैच करना चाहिए। लग्‍न की जानकारी आप किसी भी साफ्टवेयर से प्राप्‍त कर सकते हैं। आवश्‍यक नहीं कि भविष्‍यवाणी की हर लाइन उस लग्‍न में जन्‍म लेनेवाले हर लोगों के लिए एक ही जैसा महत्‍व रखे। किसी व्‍यक्ति के लिए कोई एक पंक्ति अधिक महत्‍व रखेगी और किसी के लिए कोई दूसरी पंक्ति , पर मोटामोटी तौर पर सबों के लिए यह लग्‍न राशिफल पाठकों को उनके इस महीने के भविष्‍य को जानने में अवश्‍य मदद करेगी , ऐसा मेरा विश्‍वास है। आशा है , आप इसे महत्‍वपूर्ण मानते हुए पढेंगे , अपने महीने भर की स्थिति से इसका तालमेल बैठाएंगे और इसपर प्रतिक्रिया देंगे ताकि इसमें कुछ सुधार किया जा सके। इस विषय पर आपके सुझाव आमंत्रित हैं ।

बुधवार, 29 अप्रैल 2009

नेताओं की दीर्घ अवधि भविष्‍यवाणियों की सार्वजनिक चर्चा बंद होनी चाहिए

मेरे ब्‍लाग लिखना शुरू करने के बाद चुनाव का यह पहला मौका है। यत्र तत्र कुछ आलेखों को पढने के बाद केन्‍द्रीय राजनीति के भविष्‍य को जानने की मेरी जिज्ञासा बनी । पिछले वर्ष शेयर बाजार को अचानक बढता हुआ देखकर ऐसे ही शेयर बाजार में भी दिलचस्‍पी हो गयी थी और अध्‍ययन मनन के क्रम में बाजार को प्रभावित करने वाले कुछ ज्‍योतिषीय सूत्र मुझे मिल गए थे। जब हर प्रकार का माहौल ग्रहों से संचालित होता है तो भला राजनीति क्‍यों नही ? यही सोंच कुछ दिनों से मुझे नेताओं के जन्‍मकुंडलियों के अध्‍ययन को मजबूर किया , हालांकि इसमें काफी देर हो चुकी थी। मेरे पास जितने नेताओं की जन्‍मकुंडलियां थी , मैने अध्‍ययन मनन किया और उसके बाद एक निष्‍कर्ष पर पहुंच ही गयी। पर ब्‍लाग पर राजनीति से संबंधित अपनी पहली भविष्‍यवाणी डालने से पहले सोंच में पड गयी, चाहे जिस किसी आधार पर किया जाए , भविष्‍यवाणी शत प्रतिशत सही नहीं हो सकती , यदि यह गलत हो जाए तो इतने दिनों का बना साख मिट्टी में ही तो मिल जाएगा। और शायद अतिरिक्‍त रिस्‍क की उपेक्षा करने के लिए और अपनी भविष्‍यवाणियों की सत्‍यता का प्रतिशत बढाने के लिए मैने एक भविष्‍यवाणी के अंदर 10-20 भविष्‍यवाणियां करने का निर्णय किया और अति उत्‍साह के साथ प्रतिदिन एक एक नेताओं की जन्‍मकुंडलियों का विश्‍लेषण कर आलेख के रूप में ब्‍लाग पर पोस्‍ट करने लगी।


मेरा यह कदम पाठकों को कितना अच्‍छा लगा होगा , वह तो वे ही बतला सकते हैं , पर मैने इसपर गंभीरता से विचार किया तो मुझे उचित नहीं लग रहा है। किसी भी नेता के लम्‍बे जीवन के उतार चढाव के ग्राफ को दिखलाते हुए उनकी यूं सार्वजनिक चर्चा अच्‍छी नहीं लग रही है। मैने यह भी पाया है कि पाठकों के लिए भी भविष्‍यवाणी के लिए इतना इंतजार कर पाना संभव नहीं है , वे बस इसी चुनाव का परिणाम जानना चाहते हैं। इसलिए मै एक एक नेताओं को लेकर की जा रही भविष्‍यवाणियों की चर्चा बंद कर रही हूं । जिन दो नेताओं की चर्चा हुई है , उसे भी डिलीट कर दिया है। गोचर के ग्रहों से सारे नेताओं के तालमेल की चर्चा करते हुए इस चुनाव परिणाम के बारे में भविष्‍यवाणी का एक आलेख तैयार कर रही हूं। संभवत: इसे 1 मई को मई का लग्‍न राशिफल पोस्‍ट करने के दूसरे या तीसरे दिन यानि 2 या 3 मई को पोस्‍ट कर दूंगी । आशा है , पाठक भी मुझसे सहमत होंगे।