शनिवार, 22 जनवरी 2011

दलाल स्‍ट्रीट में अगले सप्‍ताह रौनक बने रहने की संभावना है !!

आनेवाले सप्‍ताह की शेयर बाजार की भविष्‍यवाणी करते हुए मेरे आलेख प्रति सप्‍ताह मोल तोल में प्रकाशित होते ही हैं , पिछले माह तस्‍लीम के एक लेख में योगेश नाम के एक पाठक से हुई बहस में भी मैने कहा था कि 20 दिसंबर से 5 जनवरी तक बाजार निरंतर सुधरेगा , खासकर 29 दिसंबर से 5 जनवरी के मध्‍य खासी तेजी आएगी। पूरे महीने की तुलना में बाजार 20 दिसंबर से सुधरना आरंभ हुआ तथा 29 दिसंबर से 3 जनवरी तक लगातार सकारात्‍मक बना रहा। 4 और 5 को थोडी गिरावट देखी गयी।हां , बाजार में बहुत बडी बढत नहीं हुई , इसे मैं स्‍वीकार करती हूं।


पर इससे आगे के आंकडे को गौर करें , तो वह 600 प्‍वाइंट की बढत भी बडी बढत नजर आएगी , क्‍यूंकि 5 जनवरी से मात्र 6 दिन के अंदर सेंसेक्‍स में 1340 प्‍वाइंट्स की कमजोरी आयी , दुनियाभर के शेयर , सोने और चांदी के भाव इस दौरान भरपूर गिरें। विश्‍वभर की अर्थव्‍यवस्‍था में एक दबाब था,पर वह वातावरण मेरे दिए गए बढत की तिथियों यानि लगभग 20 दिसंबर 2010 से लेकर 5 जनवरी 2011 तक उपस्थित नहीं हुआ। भले ही मेरे कहे अनुरूप बहुत बडी बढत नहीं हुई , पर खीचंतान कर भी सेंसेक्‍स 600 प्‍वाइंट्स के लगभग बढता ही रहा , क्‍यूंकि उस वक्‍त की ग्रहस्थिति शेयर बाजार की ऋणात्‍मकता दिखाने के मूड में नहीं थी। इसके बाद भी ज्‍योतिष को मात्र अंधविश्‍वास माना जाए तो लोग मानते रहें।



पिछले सपताह 'गत्‍यात्‍मक ज्‍योतिष' की गणना के अनुरूप ही सेंसेक्‍स और निफ्टी में आनेवाली गिरावट तो थम गयी , पर बाजार में बढत नहीं आ पाने से आम निवेशक अनिश्चितता के दौर से गुजर रहे हैं। पूरे सप्‍ताह कभी कमजोर ग्लोबल संकेतों और विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली बाजार को पीछे ठेलती गई तो कभी घरेलू निवेशकों ने शेयरों की खरीदारी कर बाजारों को ऊपर की ओर धकेला। कल क्‍या होगा , किसी को पता नहीं , चिंता का मुख्‍य कारण यही है। दुनिया भर के शेयर बाजार से लेकर सभी प्रकार के मेटल में घटत का दौर चल रहा है।


पर गत्‍यात्‍मक ज्‍योतिष की नियमों की मानें , तो आने वाले सप्‍ताह में ग्रहों की स्थिति हर प्रकार के बाजार में तेजी लाने वाली होगी। 24 और 25 जनवरी को मेटल सेक्‍टर के शेयरों की बढत से शेयर बाजार में मजबूती की शुरूआत होगी , जो कमोबेश सभी सेक्‍टरों को मजबूती की ओर ले जाएगी। 26 और 27 जनवरी पूंजीगत वस्‍तुओं के लिए तथा 28 जनवरी बैंकिंग सेक्‍टर के लिए खास रह सकता है। इस तरह उत्‍साहजनक शुरूआत के बाद कारोबारी सप्‍ताह का अंत भी बैंकिंग सेक्‍टर के अच्‍छे खासे बढत के बाद होगा। इस तरह कुल मिलाकर दलाल स्‍ट्रीट में अगले सप्‍ताह रौनक बने रहने की संभावना है।


कुछ पाठकों , जिन्‍हें हमारे द्वारा किए गए एक सप्‍ताह के आकलन से दूरस्‍थ कार्यक्रम बनाने में सुविधा महसूस नहीं होती है, की इच्‍छा को ध्‍यान में रखते हुए, फरवरी 2011 के शेयर बाजार का आकलन किया जा चुका है। प्रतिमाह इस प्रकार का आकलन किया जा सकता है। सशुल्‍क उसे प्राप्‍त करने की इच्‍छा रखने वाले मेरे ईमेल पर संपर्क कर सकते हैं। gatyatmakjyotish@gmail.com 
एक टिप्पणी भेजें