शनिवार, 3 सितंबर 2011

एक दिवसीय मैचों में भी भारतीय क्रिकेट टीम का संघर्ष दिखता है !!

इंगलैंड टीम के खिलाफ खेले गए मैच में भारत चार टेस्ट मैचों की सीरीज़ 0-4 से हारने के साथ ही भारत टेस्ट क्रिकेट में अपना शीर्ष स्थान भी गंवा बैठा. वैसे तो इंग्लैंड कभी भी टेस्ट मैचों के हिसाब से वनडे में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है , पर जिस तरह से भारतीय टीम लगातार मजबूत होते हुए क्रिकेट में लगातार कई उपलब्धियां , यहां तक कि हाल में कुछ महीने पहले विश्व कप का ख़िताब भी हासिल कर चुकी है , ऐसी हार को देख पाना दुखद है। आश्‍चर्य है , अभी न तो हमारी बल्लेबाजी में दम दिख रहा है और न गेंदबाजी में। एक के बाद एक हार के कारण टेस्ट क्रिकेट में भारत की साख पर बट्टा लगा है। और तो और, भारत 31 अगस्‍त को हुए इंगलैंड के खिलाफ एकमात्र T20 मैच भी हार गया। अब पांच एक दिवसीय मैच खेले जाने हैं , जिसमें टीम की क्षमता और अपनी जीत को देखने के लिए करोडो भारतवासियों की नजर बनी हुई है। 


ग्रहीय आधार पर किसी भी मैच के बारे में भविष्यवाणी कर पाने में कुछ समस्याएं तो अवश्य आती हैं , क्योंकि जहॉ एक ओर दोनो टीम के सभी सदस्यों का जन्म-विवरण हमारे पास मौजूद नहीं होता , वहीं दूसरी ओर जिस शहर में मैच हो रहा है , वहॉ के आक्षांस और देशांतर रेखाओं से ग्रहों के तालमेल में भी कठिनाई आतीं हैं। फिर भी कुछ वर्षों से हमारे द्वारा क्रिकेट मैच से संबंधित जो शोध किए गए है , उसके आधार पर क्रिकेट मैच के दिन की ग्रहीय स्थिति का उस दिन के क्रिकेट पर पड़नेवाले प्रभाव का विश्लेषण 'गत्‍यात्‍मक ज्‍योतिष' के इस ब्‍लॉग पर किया जाता रहा है। मैच के बारे में किसी प्रकार की भविष्‍यवाणी करके भविष्‍य के लिए होनेवाले इस रोमांच को समाप्‍त करने का मुझे कोई हक नहीं दिखता। पर मुझे लगता है कि मेरे हल्‍के रूप में संकेत देने से शायद आपका रोमांच कम नहीं होगा।  हालांकि इस प्रकार के अध्‍ययन में बहुत ध्‍यान संकेन्‍द्रण की आवश्‍यकता पडती है और कुछ दिनों से मैं काफी व्‍यस्‍त थी , इसलिए खेलप्रेमियों क्रिकेट पर ग्रहों के प्रभाव की सूचना न दे पा रही थी। इसलिए फुर्सत मिलते ही अब शुरू कर रही हूं।


आज यानि 3 सितंबर 2011 को इंगलैंड की टीम के खिलाफ खेले जानेवाले पहले एकदिवसीय मैच में भी भारतीयों का संघर्ष स्‍पष्‍ट दिखता है। भारतीय समयानुसार मैच 14:45 पर आरंभ होगा। शुरूआत की ग्रह स्थिति इंगलैंड की टीम के पक्ष में होंगी , जिस कारण बहुत संभावना है कि टॉस वही जीते। ऐसा न भी हो तो भी लगभग डेढ घंटे में ही वह अच्‍छी मजबूती हासिल कर लेगा। पर इसके बाद स्थिति कुछ सामान्‍य होती चली जाएगी , जिसके कारण भारतीय टीम का दबाब कुछ कम होता दिखता है , लेकिन इसके बावजूद पारी का अंत इंगलैंड के पक्ष में ही दिखेगा। दूसरी पारी का आरंभ भारतीय टीम बहुत ही संतुलित ढंग से करेंगे , पर साढे छह बजे के बाद ही ग्रहों की स्थिति भारतीय टीम के पक्ष में नहीं रहेगी , इस कारण इसका प्रदर्शन मनोनुकूल नहीं रहेगा , इस कारण लगभग आठ बजे तक भारतीय टीम पूरे दबाब में रहेगी। पर उसके बाद क्रमश: बुरे ग्रहों का प्रभाव कम होना आरंभ होगा और भारतीय टीम का प्रदर्शन अच्‍छा होता चला जाएगा। इसलिए इसके बाद यदि उन्‍हें अच्‍छी तरह खेलने के लिए डेढ घंटे भी मिल गए तो जीत की उम्‍मीद रखी जा सकती है, आइए प्रार्थना करें ताकि साढे छह से आठ बजे के मध्‍य भारतीय टीम कठिनाइयों से उबरने में सफल हो !!
एक टिप्पणी भेजें